Press Articles

The Mad Genius

In India for research and the shoot of his much-awaited film Paani, and in talks with a Hollywood studio for his next tryst with eyeball-grabbing cinema a biopic on mountaineer George Mallory Shekhar Kapur straddles time zones and cultures with insouciance.

Read the complete article featured in Harmony India Magazine

Local Heroes

Branson and his partners – who include including best-selling author Deepak Chopra and award-winning Indian director Shekhar Kapur – are betting that Indians will respond to homegrown animated tales.

Read the complete article featured in TIME Magazine

The Numbers Man

Once an accountant, now a Hollywood filmmaker, Shekhar Kapur is back in India exploring the divide between rich and poor.

Read the complete article featured in TIME Magazine

The Asians are coming

The sums are simple, says film-maker Shekhar Kapur. Western dominance of the cinema will be over in 10 years.

Read the complete article featured in Guardian, UK

Shekhar Kapur at ‘Business & Art Programme’ at ISB

Shekhar Kapur, one of the few Bollywood directors who made it big in Hollywood addressed the ISBians on October 22, 2005, as part of the ‘Business & Art Programme’

Read the complete article featured at Indian School of Business

14 Responses to “Press Articles”

  1. Vivek Victor Swaroop says:

    Hi Shekar

    Came across your blog on Indian Blogs. Love it. We are in the process of publishing a “Pardes” Home away from Home- South Asian Magazine. We are based in Souh Florida USA. We are searching for conent that we want to publish in our magazine. We would like to request you if we can publish your thoughts and message in our publication.

    Regards

    Vivek Victor Swaroop
    Oureach International

    Execuive Publisher/Editor in Chief
    Pardes
    victor@oureachall.com
    954-394-5661

  2. shekhar says:

    of course, as long as you give a bye line quoting the source, shekhar

  3. Dipika says:

    Dear Shekhar,

    We are keen to profile you in our next special UK edition of our magazine. Please could you email me with your private email address where we can send you the details for this.
    Thank you

    Regards

    Dipika

  4. Ambica says:

    A brilliant mind you are supported by a good destiny..a mind which questions, feels and hopefullylives by its ideals

  5. Hi Shekar
    Came across your documentary on Bollywood: The Greatest love story ever told, which will be screened at cannes this year. I’m editor in chief of the first ever monthly italian Magazine totally dedicated to the world of Bollywood. We are based in Milan (Italy). I would like to publish your interview(if you agree I can forward the questionnaire to you over email to which you can answer) on our magazine for the issue of April that will be in Newsstands all over italy by 20th of May.
    Further I’m also interested in taking the distribution of the Documentary (Bollywood: The greatest Love story ever told) for Italian Market.
    Do let me know
    Warm regards
    John M. Thomas Editor in Chief (Bollywood Magazine Italy)
    Managing Director: GCI INDIA (www.india-gci.com)

  6. all movies directed by Shekhar Kapur is the best.Shekhar Kapur’s independent films, the Shekhar Kapur filmography keeps tabs on all movies by this director. In case you’re wondering

  7. worldclock says:

    Press Articles Shekharkapur.com – just great!

  8. There are a thousand thoughts lying within a man that he does not know till he takes up a pen to write.

  9. Nandini Chandra says:

    Dear Mr. Kapur,
    I am looking for permission to print a single image from the Devi comic, issue 1 for an article on the prehistory of superheroes for the academic journal Thesis Eleven. I teach at the Department of English, Delhi University. I would really appreciate if you could respond to this.
    Thanks.

  10. Razvan says:

    Super film merita vizionat, dar depinde de gustul fiecaruia.

  11. SC Aggarwal says:

    Dear Mr. Shekhar Kapur,
    According to TOI August 16, 2013 you have said “A day of instrospection. Free from the British but yet not free of hunger, poverty and injustice.: Shekhar Kapur, Film Makeron Independence Day.

    I have a short question” How many persons are not free of hunger in your own native/ancestral village or in native/ancestral villages of your known friends including workers of your film making industry? Kindly use your telephone, internet to ascertain the numbers not free of hunger.

    With regards,
    SC Aggarwal

  12. Dhruv Tanwani says:

    भारत के सर्वश्रेष्ठ प्रधानमन्त्री लालबहादुर शास्त्री के कामों को ध्यान में आज की हालातों में अगर वे होते तो क्या करते के आधर पर आज की परिस्थिअयों पर शीघ्र निणर्य लेकर मैं कार्य करती।
    अभी तक मुझे लग रहा था कि चारों तरफ़ की ज्वंलत समस्याओं चाहे आर्थिक हो(मंहगाई, रूपये का गिरती तदरूस्ती,गरीबों को दो समय भोजन तक न मिलना,किसानो का बढ़ता आत्महत्या आंकलन, बेकारी ,भ्रष्टाचार, आदि) या सामाजिक हो( महिलाओं की असुरक्षा,बाल श्रम, बलात्कार, दहेज हत्याए,घरवालों द्वारा सैक्स शोषण, ब्रदावन-बनारस में हर उम्र की विधवाओं की बढ़ती संख्या,अशिक्षा,अज्ञानता, कन्या भ्रूण हत्यांए, निर्बलों का शोषण आदि),या फ़िर राजनैतिक हो( सन्त आसाराम जैसे प्रभावी लोगों के कुकर्मो को राजनैतिक पार्टियों द्वारा और करते रहना की शह देना, उनको गिर्फ़तार न करना, कोलगेट काण्ड व उसकी फ़ाईले गुम करना,2जी काण्ड,एशियाड गेम्स काण्ड, सीबीआई –रा का गल्त इस्तेमाल करना आदि) या फ़िर सांस्क्रतिक( पिछ्ड़ो से भेदभाव ,शादियों पर दिखावे में धनबर्बादी,विधवाओं से सब हक छीनना,अखा तीज पर बाल विवाह द्वारा लाखों की ज़िन्दगी बर्बास करना आदि) ही क्यों न हो, या फ़िर अन्तर्राष्ट्रीय समस्याए( आए दिन आंतक झेलना, चीन का सीमा पार कर देश में घुस जाना, पाक द्वारा उलझुलूल हरकते, कश्मीर समस्या को ग्लोबली जामा पहनाना आदि)
    अगर एक रूलिग पार्टी पथ भटक गयी है तो दूसरी विरोधी पार्टी को मौका देना चाहिए । पर अब देखा एक टीनएजर बच्ची से बलात्कार सिद्ध होने पर भी अपने को चरित्रवान कहलाने वाली पार्टी की लीडर ऊमा भारती तक वोटों की राजनीति में सन्त आसाराम को संर्क्षण देने में नहीं हिचकिचाती तो मुझे बड़ी हताशा होती है। अगर ऐसी पार्टी सत्ता में आयी तो ऐसे सन्तो बाबाओं की तो चान्दी हो जायेगी ।इसलिए मैं खुद आज की हालातों में एक महिला समाजशास्त्री होने के नाते ,देश की प्रधान मन्त्री बनकर सुशासन की दिशा तय करूंगी।
    1- मैं महिला होने के नाते महिलाओं के दर्द दुखों को अच्छी तरह समझती हूं। हमारे देश ्की संसद में महिलाओं का आधा प्रतिनिधत्व न होने के कारण महिलाओं के संरक्षण के कानून बन ही नहीं पाते। इसलिए बलात्कारी जितना प्रभावी (सन्त आसाराम अब तक खुला घूम रहा है)उतना कानून ढीला। अत: सबसे पहले महिलाओं के हितो की अनदेखी किसी कीमत पर नहीं होने दूंगी। शास्त्री जी ने भी देश के लिए जान तक दे डाली। मैं एक तपस्वी बनकर निस्वार्थ होकर कार्य करूंगी। पपलू पी-एम मनमोहन सा बनने से अच्छा है सत्ता का परित्याग करना। सबसे पहले कानूनन बलात्कारियो को अन्दर कर कानूनी कार्यवाही करूंगी। प्रभावी बलात्कारी बाहर रहकर और अधिक जांच में बाधक तो बनेगे ही साथ ही कुकर्म के लिए भी प्रेरित होंगे।
    2- देश को भ्रष्टाचार से मुक्त कराने के लिए स्वंय का (शास्त्रीजी की तरह) भ्रष्टाचार से मुक्त होना ज़रूरी हो्ता है। मैं केवल खुद ही नहीं बलिक पूरी मन्त्री परिषद को भ्रष्टाचार मुक्त कराने के लिए कठोर कार्यवाही कर न केवल मन्त्री पद से हटा दूंगी बलिक सिंगल आदि को जेल की हवा खिलाने में नहीं हिचकिचाऊंगी
    3- देश के जनजन को रोटी पहुंचाने के लिए एक नीति का होना आवश्यक होता है। शास्त्रीजी ने अन्न की कमी के लिए जनजन को उपवास रखने व शादी ब्याहो उत्स्वों में फ़लाहारी सामग्री परोसने का आव्हान किया जिसे सहर्ष लोगो ने स्वीकारा। मैं भी अन्न की कमी को इस तरह पूरा करूंगी। अन्न ,दाले ,प्याज़ सब्जी फ़ल अपने देशवासियों को खिलाने के लिए निर्यात पर रोक लगाऊंगी
    4- पाक की हरकतो के लिए उसे बिरयानी नहीं, बहिष्कार की सूखी रोटी के लिए तरसाऊंगी ताकि उनका मोरल डाऊन हो और गल्त हरकत करने के पहले आंतकी हरकत के पहले हज़ार बार सोचने पर विवश हो।
    5- चीनी हिन्दी भाई भाई के सबक से सीख लेकर हमारे विशाल अस्त्रो-शस्त्रों को प्रयोग करके गुप्त गुफ़ा बनाने की साजिशो को पल में ध्वस्त करके ही दम लूंगी। ताकि पड़ौसी मुल्क हमारे प्रभाव को समझे और डर कर के रहे।
    6- किसी भी प्रधानमन्त्री के लिए विदेश नीति की परिकल्पना होना ज़रूरी है। अपनी दूरदर्शिता की वजह से पाकिस्तान जैसे देश को गिड़गिडाने पर विवश कर के दम लूंगी। पूरी दुनिया को भारत की ताकत का अंदाजा दिलाना ज़रूरी है।
    7- आज देश में किसानो की आत्महत्या नहीं होने देती। जयजवान जय किसान का नारा देकर दोनों त्यागमये वर्गो में नई ऊर्जा का संचार करती। अभी हाल ही में 5 जवानो का बेवजय सीमा पर कत्ल किया गया। सबने बुलेट्प्रूफ़ जैकट पहन रखे थे। ताजुब है दिश के ऐसे हीरो की ज़िन्दगी भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गयी।बुलेट्प्रूफ़ जैकट रैक्ट के उतरदायी लोगो को फ़ासी ही एक उपाय समझ्ती।
    8- जातिविहीन राजनीति के लिए एक मसीहा बनकर काम करूंगी।
    9- policies of non-alignment and socialism को लागू करने की वचनबद्धता कायम रखूंगी।
    10- किसी भी देश की ईकोनोमी और विदेशी मुद्रा भण्डारण ज़रूरी है। रूपया अन्तिम सांसे ले रहा है। केवल एल-सी-डी व एल-ई-डी मोनीटरस पर रोक लगाने से काम नहीं चलेगा। हमारे देश में होली हो या दीवाली शादी हो या तीज हमारे देशी बज़ार चीन के माल से भरे रहते है। ये हमारे देश के गरीबो की रोटी पर लात मारते हैं,साथ ही विदेशी मुद्रा भण्डारण को भी पगु बनाते है। अत; इन पर रोक लगाकर अपने लोगो के हाथों से बने दीयो से घरो को चमकाऊंगी।
    11- दाऊद इब्राहीम सरीके लोगो को अमेरिका की तरह उनके अपनए घरों में जाकर उफ़ट मराऊंगी।
    12- शिक्षा में समानता के लिए नीति बनाऊंगी ।ताकि मंहगे स्कूल अमीरो को ही नहीं सबको नसीब हों।उसी तरह जन जन के हैल्थ को महत्ता दूंगी।
    13- सुरक्षा परिषद में अपनी सदस्यता के लिए हर संभव कोशिश करूंगी।
    14- बल और धन पर अपराधियों के चुनाव पर पूर्ण रोक का सख्त कानून होगा। चाणिक्य की तरह योग्य लोगों की तलाश कर उनकी सेवाओं का भरपूर उपयोग कर देश को फ़िर से सोने की चिड़िया बनाऊंगी।
    15- मैं देश की सिन्धी बेटी हूं जिसने हिन्द-पाक विभाजन के दंशो को अपने मातापिता की अनुभूतियों से सहा है। बचपन से रज्यविहीन होने के कारण अधिक योग्यता होने पर भी भेदभाव की शिकार रही हूं। हरीजनो से बदतर ज़िन्दगी जी है। अत: अपने देश में सिन्ध राज्य बनाने के सपने को पूरा करूंगी। इसके लिए मुझे पाक से आधा सिन्ध भी लेना पड़े तो भी पीछे नहीं हटूंगी। बड़े नेताओं (गांधी ,नेहरू,पटेल) की गल्तीयों को सुधारूंगी जिन्होने आधे सिन्ध की मांग न रखकर सिन्धी कौम को अपने देश में भिखरी बना दिया। ज़ुल्फ़ीकार भुट्टो सिन्ध में मेरे पिताजी के बराबर ऊचांई पर बनाई गई गद्दी पर बैठने की जुर्रत नहीं करते थे।वे नीचे ज़मीन पर बिछी दरी पर ही बैठा करते थे। ऐसे लोगो को दर दर की ठोकरे खाने पर विवश होना पड़ा।
    डा ध्रुव तनवानी

  13. Dr saleemabi says:

    dear mr shekhar kapurji i am your fan since twenty years. when i was watching a historical- discovery episode .Do you know Urdu language ? /have you studied Urdu in school days. if yes please send your certificate to my address.i am doing research.i need it .

    ;d/2 kcd staff qtrs beside uday hostel ,barakotri road, Dharwad -580007 [karnataka] as early as possible.

  14. pankaj gupta says:

    meri kahani aaj k jamane me logo ko hila k rakh degi meri jeewan gatha hai ye mai jada nahi kahta meri jaisi kahani hi samaj ko jgrat karne ka sandesh bhi de sakati hai aur logo ko nai soch ki taraf presit karegi agar aap chahe to hame 08305742517 me sampark kar sakte hai.

Leave a Reply